जन्मदिन विशेष:अपने अभिनय के साथ अमिताभ के कठिन वक्त में भी हमसफर के रूप में डटी रहीं जया बच्चन

जन्मदिन विशेष:अपने अभिनय के साथ अमिताभ के कठिन वक्त में भी हमसफर के रूप में डटी रहीं जया बच्चन

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 09 Apr, 2021 12:41 pm राजनीतिक-हलचल देश और दुनिया लाइफस्टाइल सम्पादकीय ताज़ा खबर स्लाइडर मनोरंजन

हिमाचल जनादेश,शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

आज हम एक ऐसी बॉलीवुड अभिनेत्री की चर्चा करेंगे जो महानायक अमिताभ बच्चन की धर्मपत्नी भी हैं। लगभग 48 साल से अमिताभ के साथ हर क्षेत्र में कदम से कदम बढ़ाकर मजबूती के साथ डटी हुईं हैं। जी हां हम बात कर रहे हैं हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री रहीं जया बच्चन भादुरी बच्चन की। जया बच्चन ने जिस समझदारी के साथ अपनी शादीशुदा जिंदगी को बचाया और एक पत्नी की तरह हर मुश्किल घड़ी में अमिताभ के साथ दिखाई दीं। यहां हम आपको बता दें कि साल 1982 को बेंगलुरु में फिल्म 'कुली' की शूटिंग के दौरान अमिताभ बच्चन बुरी तरह घायल हो गए थे। उनकी हालात देख बड़े-बड़े डॉक्टर्स ने भी हाथ खड़े कर दिए थे। उस समय जया पूरी मजबूती से अमिताभ के साथ खड़ी रहीं । उसके बाद अमिताभ बच्चन स्वस्थ हो गए तब उन्होंने अभिनेत्री रेखा को भुला दिया था । 

यहां हम आपको बता दें कि अमिताभ रेखा से प्यार करते समय बहुत आगे निकल गए थे। आज फिल्म जया बच्चन का जन्मदिन है । आइए जानते हैं इनका फिल्मी और सियासत का सफर कैसा रहा । जया बच्चन का जन्म 9 अप्रैल 1948 को जबलपुर के एक बंगाली परिवार में हुआ था और उनका पूरा नाम जया भादुरी बच्‍चन है। पढ़ाई में भी जया बच्चन काफी अव्वल थीं और उस दौर में जया बच्चन उन एक्ट्रेस में से एक थीं, जिन्होंने एक्टिंग की पढ़ाई की थी। उन्‍होंने फिल्‍म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पुणे में एक्टिंग सीखी और वहां भी उन्हें गोल्ड मेडल मिला था। इससे पहले उन्होंने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई भोपाल में की थी । 

अपने पति के बाद जया ने भी राजनीति में कदम रखा। फिल्मी एक्टिंग के अलावा जया बच्चन को राजनीति भी खूब रास आ रही है । जया बच्‍चन ने अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत समाजवादी पार्टी से 2004 में की थी और तब से अब तक वह 4 बार राज्‍य सभा सांसद बन चुकी हैं। अपने बयानों की वजह से वह सुर्खियों में भी रहतीं हैं । बता दें कि समाजवादी पार्टी के दिवंगत नेता अमर सिंह से उनके मनमुटाव भी साफ तौर पर देखे गए । लेकिन उसके बावजूद जया राजनीति नहीं छोड़ पाईं ।  

एक नजर इधर भी-देहरा:स्वास्थ्य विभाग ने जाना महेवा और आसपास की पंचायतों के लोगों का हाल
साल 1971 में फिल्म गुड्डी से जया ने अभिनेत्री के रूप में बॉलीवुड में की शुरुआत
जया बच्चन ने साल 1971 में आई फिल्म 'गुड्डी' से अभिनेत्री के रूप में करियर की शुरुआत की थी। हालांकि उससे पहले भी हुए कुछ फिल्मों में सहायक अभिनेत्री के रूप में शुरुआत कर चुकी थी। फिल्म गुड्डी को ऋषिकेश मुखर्जी ने डायरेक्ट किया था। जया बच्चन ने पहली बार अमिताभ बच्चन के साथ साल 1972 में आई फिल्म 'बंसी बिरजू' में काम किया। यह साल ऐसा साल था जिसमें जया बच्चन की 11 फिल्मों को पर्दे पर देखा गया था । जिसमें मुख्य रूप से ‘पिया का घर’ ‘परिचय’ ‘कोशिश’ ‘शोर’ फिल्में शामिल थीं। उस दौरान जया बच्चन का सभी अभिनेत्रियों के बीच एक अलग ही छवि बन चुकी थी। इसके अगले ही साल यानी 3 जून 1973 में अमिताभ और जया ने शादी कर ली। जवानी दीवानी, उपहार, अनामिका, मिली, अभिमान, शोले, बावर्ची, चुपके चुपके और जंजीर जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्‍में शामिल हैं। सिलसिला (1981) में अपने पति अमिताभ के साथ काम करने के बाद वह लगभग 16 साल फिल्मों से दूर रहीं ‍। 

उसके बाद ‍उन्होंने फिर से कई ब्‍लॉकबस्‍टर फिल्‍में कीं जिनमें से फिजा, कल हो न हो, कभी खुशी कभी गम, हजार चौरासी की मां, कल हो न हो, लागा चुनरी में दाग आदि प्रमुख हैं। बता दें कि जया बच्चन को साल 1992 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। जया ने 9 फिल्मफेयर अवार्ड्स जीते हैं। अभिनेत्री जया बच्चन के बयान कई बार सुर्खियों में रहे । साल 2008 में फिल्म ‘द्रोणा’ के म्यूजिक लांच पर जया के द्वारा दिए गए भाषण पर महाराष्ट्र के लोगों ने इनकी आलोचना की थी। जब महाराष्ट्र में संगीत लॉन्च पर जया बच्चन को बोलने को कहा गया, तो उन्होंने कहा कि हम यूपी वाले मातृभाषा प्रेमी हैं, हम हिंदी में ही बात करना पसंद करते हैं, महाराष्ट्र वाले कृपया हमे माफ करें। जिसके चलते महाराष्ट्र के नेताओं ने जया बच्चन की खूब आलोचना की। फिलहाल वे राजनीति में सक्रिय हैं। समाजवादी पार्टी की ओर से राज्यसभा सांसद हैं । संसद में समय-समय पर वह कई महत्वपूर्ण मुद्दों को भी उठाती रहती हैं ।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.