दिल्ली में कोरोना की डराती रफ्तार; आज फिर नए केस 21000 के पार, 23 और मौतें, अब तक 15.90 लाख लोग संक्रमित

दिल्ली में कोरोना की डराती रफ्तार; आज फिर नए केस 21000 के पार, 23 और मौतें, अब तक 15.90 लाख लोग संक्रमित

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 11 Jan, 2022 07:35 pm क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार देश और दुनिया लाइफस्टाइल सम्पादकीय ताज़ा खबर स्लाइडर स्वस्थ जीवन आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश , न्यूज़ डेस्क 

 

दिल्ली में कोरोना का विस्फोट लगातार जारी है। मंगलवार को दिल्ली में कोरोना के 21000 से अधिक नए मरीज मिलने के बाद यहां संक्रमितों का कुल आंकड़ा बढ़कर 15.90 लाख के पार पहुंच गया है। इसके साथ ही पॉजिटिविटी दर भी बढ़कर 25.65 फीसदी पर पहुंच गई है। वहीं, अगर एक्टिव केसों पर नजर डालें तो यह भी बढ़कर 75000 के करीब पहुंच गए हैं। दिल्ली में आज कोरोना से 23 और मौतें हुईं।

 

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, बीते 24 घंटे में जहां कोरोना के 21,259 नए मरीज मिले हैं, आज संक्रमण से 23 मरीजों की मौत भी हो गई। सोमवार को दिल्ली 19 हजार से अधिक नए कोविड केस सामने आए थे।

दिल्ली में आज 12,161 लोग कोरोना मुक्त होकर अपने घरों को भी लौट गए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि दिल्ली में अब तक संक्रमितों की कुल संख्या 15,90,155 हो गई है। 

राजधानी में अब कोरोना वायरस संक्रमण के एक्टिव केस बढ़कर 74,881 हो गए हैं। इनमें से 50,796 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। वहीं, अब तक कुल 14,90,074 मरीज इस महामारी को मात देकर कोरोना मुक्त हो चुके हैं। इसके साथ ही अब तक मरने वालों की संख्या 25,200 हो गई है। दिल्ली के अस्पतालों में फिलहाल कोरोना के 2209 मरीज भर्ती हैं, जिनमें से 568 मरीज ऑक्सीजन बेड पर और 84 मरीज वेंटिलेटर पर हैं।

दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, आज दिल्ली में कुल 82,884 टेस्ट किए गए हैं। इनमें से 61,060 आरटीपीआर/ सीबीएनएएटी / ट्रूनैट टेस्ट और 21,824 रैपिड एंटीजन टेस्ट किए गए। दिल्ली में अब तक कुल 33,64,3306 जांचें हुई हैं और प्रति 10 लाख लोगों पर 17,70,700 टेस्ट किए गए हैं। इसके साथ ही आज यहां कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 17,269 हो गई है।

बता दें कि, कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने मंगलवार को छूट प्राप्त श्रेणी में आने वाले ऑफिसों को छोड़कर सभी प्राइवेट ऑफिसों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। जो प्राइवेट ऑफिस अभी तक 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ काम कर रहे थे, उनसे अब वर्क फ्रॉम होम शुरू करने को कहा गया है। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) द्वारा जारी आदेश के तहत दिल्ली के बार और रेस्तरांओं को बंद कर दिया गया है। बहरहाल, रेस्तरां को घर पर भोजन पहुंचाने की सुविधा देने की अनुमति है। इसके अलावा लोग रेस्तरां से खाना पैक कराकर ले जा सकते हैं। शहर के सरकारी ऑफिस अभी तक 50 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ काम कर रहे हैं।

एक नजर इधर भी -मरीज को आइजीएमसी शिमला ले जा रही कार हुई दुर्घटना का शिकार तीन घायल, सराहां अस्पताल रेफर

केंद्र ने पूरे एनसीआर में पाबंदियां लगाने का दिया आश्वासन - केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि केंद्र के प्रतिनिधियों ने दिल्ली सरकार को आश्वासन दिया है कि राजधानी में लगाए गए कोविड से संबंधित प्रतिबंधों को पूरे एनसीआर में लागू किया जाएगा। केजरीवाल ने कहा कि इस बात का पूर्वानुमान लगाना मुश्किल है कि कोरोना वायरस की तीसरी लहर चरम स्थिति पर कब पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि सरकार को मजबूरी में प्रतिबंध लगाने पड़े हैं और दोहराया कि पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा।

केजरीवाल ने लोक नायक अस्पताल में पत्रकारों से कहा कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (DDMA) की बैठक में हमने केंद्र के प्रतिनिधियों से कहा कि सिर्फ दिल्ली में ही नहीं बल्कि पूरे एनसीआर में पाबंदियां लागू की जाएं। उन्होंने हमें आश्वासन दिया है कि दिल्ली में लागू प्रतिबंधों को क्षेत्र में लागू किया जाएगा। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि इस बात का पूर्वानुमान नहीं लगाया जा सकता है कि महामारी की तीसरी लहर कब शीर्ष पर पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि बीते तीन दिनों से दैनिक मामले 20-22 हजार के बीच आ रहे हैं और संक्रमण दर 24-25 प्रतिशत है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मामले बढ़ेंगे नहीं। 

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.