प्रदर्शन कर रहे पुलिसकर्मियों के परिजनों ने बिलासपुर में जेपी नड्डा को सौंपा ज्ञापन

प्रदर्शन कर रहे पुलिसकर्मियों के परिजनों ने बिलासपुर में जेपी नड्डा को सौंपा ज्ञापन

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 05 Dec, 2021 01:12 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल सुनो सरकार लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर बिलासपुर शिमला स्वस्थ जीवन आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश , बिलासपुर(संवाददाता )

बिलासपुर के कोठीपुरा स्थित एम्स ओपीडी के शुभारंभ के दौरान जब भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा लुहणु मैदान से रवाना हुए तो गेट पर पुलिस विभाग में कार्यरत कर्मचारियों के परिजनों ने जस्टिस फॉर एचपी पुलिस के पोस्टर लेकर नड्डा की गाड़ी को घेरा।

उसके बाद उन्होंने नड्डा को ज्ञापन सौंपा। परिजनों का कहना है कि सभी विभागों में कार्यरत लोगों का अनुबंध कम किया गया है लेकिन पुलिस विभाग में कार्यरत कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार से उन्होंने उम्मीद छोड़ दी है। अब उन्हें केंद्र सरकार से उम्मीद है इसलिए उन्होंने नड्डा ज्ञापन सौंपा।

एसपी बिलासपुर के प्रोटोकॉल फॉलो करवाने के दावे हवा
लुहणु में पुलिस कर्मियों के करीब 20 परिजनों ने भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के काफिले को एक मिनट के लिए रोका। नड्डा के आने से दस मिनट पहले  परिजन गेट पर पहुंच चुके थे। पुलिस इसका अंदाजा ही नहीं लगा पाई। बताया जा रहा है कि पुलिस कर्मियों के परिजन एम्स भी पहुंचेंगे। यहां पर नड्डा से मुलाकात करके संशोधित पे-बैंड को लेकर हो रहे अन्याय के समाधान की मांग करेंगे।

एक नजर इधर भी - हिमचाल : कालेज प्रोफेसर ने छात्रा से की छेड़छाड़,क्‍वार्टर में बुलाकर किया यौन उत्‍पीड़न-मामला दर्ज

यह है मामला
पुलिस कर्मियों के परिजन 2015 से भर्ती हुए पुलिस कांस्टेबल को मिलने वाले रिवाइज पे-बैंड को देने की अवधि 8 साल से घटाकर 2 साल करने की मांग पर अड़े हैं। सोशल मीडिया पर भी जयराम सरकार के खिलाफ अभियान चला रखा है। इससे पहले 28 नवंबर को सैकड़ों पुलिस कांस्टेबल ने मुख्यमंत्री आवास पहुंचकर अपनी नाराजगी जताते हुए इसी मांग को रखा था।

मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया था कि वह जल्द इस मामले में कुछ करेंगे लेकिन एक हफ्ते से वित्त विभाग के साथ मुख्यमंत्री के आदेश के बाद भी बैठक तक आयोजित नहीं हो सकी है जिसका नतीजा यह हुआ कि आज राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को पुलिसकर्मियों के परिजनों ने ज्ञापन सौंपा।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.