बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर पिता को उतारा मौत के घाट,बेगुनाहों को फंसाने के लिए चार लोगों के खिलाफ कराया था मामला दर्ज 

बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर पिता को उतारा मौत के घाट,बेगुनाहों को फंसाने के लिए चार लोगों के खिलाफ कराया था मामला दर्ज 

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 22 Nov, 2021 12:50 pm क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार देश और दुनिया लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर स्वस्थ जीवन आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,न्यूज़ डेस्क 

उत्तर प्रदेश के सम्भल जिले में किसान की हत्या मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला राजफाश किया है। बेटी ने प्रेमी के साथ मिलकर पिता की हत्या कर दी और बेगुनाहों को फंसाने के लिए चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने मामले का पर्दाफाश करते हुए पिता की हत्या में बेटी व उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। उनकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त गंडासा और चाकू भी बरामद कर लिया है।

जानकारी के अनुसार सम्भल में असमोली क्षेत्र के गांव भूड़ा बेगमपुर निवासी नौबत सिंह जाटव की गुरुवार रात छत पर सोते वक्त चाकू व गंडासे से वार करके हत्या कर दी गई थी। बेटी रानी ने पड़ोसी गांव राया बुजुर्ग के चार लोगों के खिलाफ धान न तौलना और रुपये न देने पर हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस को हत्या के कारण गले नहीं उतर रहे थे। पूछताछ की तो मां ने चार दिन पहले और बेटी ने दो दिन पहले आरोपितों के घर पर आने की जानकारी दी। पुलिस को आरोपितों की मोबाइल लोकेशन भी घटनास्थल पर नहीं मिली।

एक नजर इधर भी- इंस्टाग्राम पर हुई युवक से दोस्ती, हिमाचली नाबालिग ने मां के गहने चुराकर किए आरोपित के हवाले

बेटी ने बताया था आरोपित दीवार कूदकर भाग गए। दीवार इतनी ऊंची थी कि कोई दूसरी तरफ कूद नहीं सकता था। पुलिस ने रानी से उसका मोबाइल नंबर मांगा तो मोबाइल न होना बताया। जबकि पुलिस को पता था कि उसके पास मोबाइल है। बेटी के प्रेम प्रसंग की बात पता चली तो पुलिस ने दोनों के मोबाइल की काल डिटेल खंगाली। पता चला कि दोनों के बीच लगातार फोन पर बात होती रही और घटना के बाद भी प्रेमी को कई बार फोन किया। इसके बाद पुलिस ने दोनों से अलग-अलग सख्ती से पूछताछ की तो हत्या का पर्दाफाश हो गया।

एसपी चक्रेश मिश्रा ने ब्रीफिंग में बताया कि राहुल जाटव के फूफा का घर नौबत सिंह के घर के बराबर में है। आने-जाने के दौरान उसके रानी से प्रेम संबंध हो गए। घटना से कुछ दिनों पहले पिता ने बेटी को फोन पर बात करते हुए देख लिया तो उसे फटकार लगाते हुए सिम भी तोड़ दिया। साथ ही बेटी की अन्यत्र शादी की तैयारी शुरू कर दी। इसके बाद बेटी ने प्रेम में बाधा बन रहे पिता को रास्ते से हटाने की ठानी। रानी ने फोन करके प्रेमी को बताया कि अगर हमने पिता को रास्ते से नहीं हटाया तो मेरी शादी कहीं दूसरी जगह कर देंगे। इसलिए दोनों ने मिलकर हत्या का षड्यंत्र रचा।

ऐसे दिया घटना को अंजाम :- 
एसपी के मुताबिक घटना वाले दिन 17 नवंबर को रानी ने रात में 12 बजे दरवाजे से प्रेमी को अंदर बुलाया। मौका पाकर कमरे में सो रहे नौबत सिंह के मुंह को राहुल ने कपड़े से दबा दिया और रानी ने चाकू से गले पर कई बार किए। इसके बाद प्रेमी ने गंडासे से वार करके मौत के घाट उतार दिया।

थाना प्रभारी निरीक्षक डीके शर्मा ने बताया कि ने बताया कि राहुल और रानी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया। अभी तक की जांच में यह सामने आया है कि मां ने भी वही बोला, जो बेटी ने बताया था। बेगुनाहों को फंसाने के लिए फर्जी मुकदमा क्यों दर्ज कराया, इसकी जांच की जा रही है। जांच के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.