उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत इन 5 राज्यों का जानिए चुनावी मूड, क्या कहता है सर्वे?

उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत इन 5 राज्यों का जानिए चुनावी मूड, क्या कहता है सर्वे?

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 09 Oct, 2021 12:04 pm राजनीतिक-हलचल देश और दुनिया लाइफस्टाइल सम्पादकीय ताज़ा खबर स्लाइडर

हिमाचल जनादेश,न्यूज़ डेस्क 

साल 2022 में देश के 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इन सभी 5 राज्यों में चुनावी तैयारी अपने चरम पर है। राजनीतिक पार्टियों की गतिविधियां इन राज्यों काफी तेज हो चुकी हैं। इन राज्यों में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को सबसे अहम सियासी दंगल के तौर पर देखा जा रहा है। यूपी चुनाव के मद्देनजर सभी राजनीतिक दलों पर चुनावी रंग चढ़ चुका है वहीं, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा के चुनावी दंगल पर भी पार्टियों की नजर बनी हुई है। कुछ ही महीनों बाद होने वाले इन चुनावों में किसका पलड़ा भारी है और कहां किसकी जीत तय लग रही है। आइए जानते हैं इस पर क्या कहता है ताजा सर्वे…

मणिपुर
मणिपुर में वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और एन बीरेन सिंह वहां के मुख्यमंत्री हैं।  सर्वे के मुताबिक आगामी विधानसभा चुनावों में 60 सीटों वाले मणिपुर विधानसभा में एक बार बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनती नजर आ रही है। सर्वे के मुताबिक आने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 36 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं, वहीं कांग्रेस भी ज्यादा पीछे नहीं है। उसे 34 प्रतिशत वोट प्राप्त हो सकते हैं। वहीं नागा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) को 9 प्रतिशत और अन्य को 21 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं।

सर्वे के मुताबिक मणिपुर विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के खाते में 26 से 30 सीटें जाती दिख रही हैं वहीं, कांग्रेस को 21 से 25 सीटों पर जीत मिल सकती है। इसके अलावा एनपीएफ के खाते में 4 से 8 सीटें जा सकती हैं। अगर बीजेपी की सीट संख्या 26 से 30 के बीच में रहती है तो एनपीएफ की भूमिका बढ़ जाएगी। यहां अन्य के खाते में 1 से 5 सीटें जा सकती हैं।

गोवा
गोवा में वर्तमान में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार है और प्रमोद सावंत वहां के मुख्यमंत्री हैं. सर्वे के मुताबिक गोवा में बीजेपी को बहुमत हासिल हो सकता है। यहां उसे 38 प्रतिशत वोट मिलते दिख रहे हैं। वहीं, कांग्रेस को 18 प्रतिशत और आम आदमी पार्टी को 23 प्रतिशत वोट मिलते दिख रहे हैं. इसके अन्य निर्दलीय उम्मीदवारों के खाते में 21 प्रतिशत वोट जा सकते हैं।

सीटों की बात करें तो सर्वे के मुताबिक इस बार गोवा में बीजेपी आसानी से सरकार बनाती दिख रही है। उसे 24 से 28 सीटें मिल सकती हैं जबकि पिछली बार की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को 1 से 5 सीट ही मिलने के आसार हैं। वहीं आम आदमी पार्टी इस बार बढ़त पा सकती है जिसकी सीटों की संख्या 3 से 7 तक हो सकती हैं. अन्य के खाते में 4 से 8 सीटें जा सकती हैं।

40 सीटों वाले गोवा में साल 2017 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को 17 सीटों पर जीत मिली थी और सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद वो सरकार बनाने में विफल रही थी। वहीं, 13 सीटों पर जीत दर्ज करने वाली बीजेपी ने रातों-रात खेल कर दिया था और कांग्रेस के जीते हुए विधायकों को अपने पाले में करके बहुमत हासिल कर लिया था।

उत्तराखंड
उत्तराखंड में इस समय बीजेपी सत्ता में है लेकिन 2017 विधानसभा चुनाव से लेकर अभी तक पार्टी दो बार मुख्यमंत्री बदल चुकी है। 2017 में मुख्यमंत्री बने त्रिवेंद्र सिंह रावत को 5 साल से पहले ही पद छोड़ना पड़ा और उनकी जगह तीरथ सिंह रावत को मुख्यमंत्री पद की कमान दी गई लेकिन वो भी ज्यादा दिन नहीं टिक सके और महज 3 महीने बाद ही सीएम पद से हट गए. वर्तमान में यहां पुष्कर सिंह धामी मुख्यमंत्री हैं।

हालांकि, इतनी उठापठक के बाद भी सर्वे में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरती नजर आ रही है। 70 विधानसभा सीटों वाले उत्तराखंड में बीजेपी को 2022 विधानसभा चुनाव में 42 से 46 सीटों पर जीत मिल सकती है। वहीं, कांग्रेस 21 से 25 सीटों पर सिमट सकती है. आम आदमी पार्टी को उत्तराखंड में 0 से 4 सीटें मिल सकती हैं। वहीं अन्य के खाते में 2 सीटें जा सकती हैं। वोट प्रतिशत की बात करें तो, बीजेपी को 45 प्रतिशत, कांग्रेस को 34 प्रतिशत, आम आदमी पार्टी को 15 प्रतिशत और अन्य को 6 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं।

पंजाब
पंजाब में सत्ता की कुर्सी पर काबिज कांग्रेस की अंदरुनी कलह जगजाहिर हो चुका है। कैप्टन ने मुख्यमंत्री पद छोड़ने के साथ-साथ खुद को पार्टी से अलग करने पर उतारू हैं। वहीं, नए कैबिनेट के नामों के चयन व अफसरों की नियुक्ति में सिद्धू को अनदेखा किया जाना भी पार्टी के लिए मुसीबत बन सकती है। हालांकि पार्टी सिद्धू को शांत रखने की कोशिश में लगी हुई है। कांग्रेस को पार्टी में मचे घमासान का खामियाजा चुनावी हार के रूप में भुगतनी पड़ सकती है।

सर्वे के मुताबिक आगामी विधानसभा चुनाव में पंजाब में आम आदमी पार्टी को सबसे ज्यादा सीटें मिलती दिख रही हैं. वहीं कांग्रेस दूसरे पर और अकाली दल तीसरे नंबर पर रह सकते हैं। सर्वे के अनुसार आम आदमी पार्टी को 49 से 55 सीटें, कांग्रेस को 39 से 47 सीटें और अकाली दल को 17 से 25 सीटें मिल सकती हैं। वहीं बीजेपी को यहां 0 से 1 सीट मिलता नजर आ रहा है।

117 विधानसभा सीटों वाले पंजाब में सर्वे के मुताबिक आम आदमी पार्टी को 36 प्रतिशत, कांग्रेस को 32 प्रतिशत, अकाली दल को 22 प्रतिशत, बीजेपी को 4 प्रतिशत और अन्य को 6 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। पंजाब किसी भी पार्टी को सरकार बनाने के लिए 59 सीटों पर जीत हासिल करना जरूरी है।

उत्तर प्रदेश
उत्तर प्रदेश का चुनावी माहौल गरम हो चुका है। लखीमपुर खीरी कांड के कारण सभी विपक्षी पार्टियां सक्रिय हो चुकी हैं और नेता जमीन पर पांव जमाने की पुरजोर कोशश कर रहे हैं। हालांकि, योगी आदित्यनाथ का जलवा अभी भी बरकरार नजर आ रहा है सर्वे के मुताबिक प्रदेश में मुख्यमंत्री के तौर पर योगी आदित्यनाथ पहली पसंद हैं। वहीं इस मामले में अखिलेश यादव दूसरे और मायावती तीसरे नंबर पर हैं. हैरानी की बात ये है कि सर्वे में सीएम के रूप में जनता के पसंद के तौर पर प्रियंका गांधी चौथे नंबर पर हैं।

वोट प्रतिशत की बात करें तो बीजेपी आगामी यूपी विधानसभा चुनाव में भी सबसे बड़ी पार्टी बन सकती है, उसे 41.3 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं। वहीं, समाजवादी पार्टी को 32.4 फीसदी, बहुजन समाज पार्टी को 14..7 फीसदी और कांग्रेस को 5.6 फीसदी वोट मिल सकते हैं। इसके अलावा अन्य के खाते में 6 फीसदी वोट जा सकते हैं।

सर्वे के मुताबिक 403 विधानसभा सीटों वाले उत्तर प्रदेश में बीजेपी को 241 से 249 सीटें मिल सकती हैं। यानी बीजेपी एक बार फिर भारी बहुमत के साथ सरकार बना सकती है। वहीं समाजवादी पार्टी को 130 से 138 सीटें, बसपा को 15 से 19 सीटें और सबसे ज्यादा जोर लगाती नजर आ रही कांग्रेस को 3 से 7 सीटें मिल सकती हैं अन्य को 0 से 4 सीटें मिल सकती हैं।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.