भाई का दोस्त बना जान का दुश्मन, फिरौती न देने पर मासूम का किया कत्ल

भाई का दोस्त बना जान का दुश्मन, फिरौती न देने पर मासूम का किया कत्ल

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 16 Sep, 2021 12:11 pm क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार देश और दुनिया लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,न्यूज़ डेस्क 
अमृतसर के अंतर्गत 3 लाख की फिरौती न मिलने पर अपहरणकर्ता मन्नन ने 12 साल के मासूम रंजन की हत्या कर उसके शव को सुल्तानविंड नहर में फैंक दिया। बेशक वारदात के ठीक 24 घंटे बाद पुलिस ने अपहरणकर्ता को गिरफ्तार कर लिया मगर तब तक देर हो चुकी थी।

डी.सी.पी. मुखविंद्र सिंह भुल्लर की अध्यक्षता में चल रहे इस आप्रेशन में रंजन के घर वालों को फिरौती की कॉल आने के बाद पुलिस अपहरणकर्ता को ट्रेस कर चुकी थी, जबकि पैसा मांगने से पहले ही वह मासूम का कत्ल कर चुका था। देर रात तक गोताखोर व पुलिस बच्चे के शव को ढूंढने के लिए सुल्तानविंड नहर पर मौजूद थी। पानी का बहाव ज्यादा होने के कारण शव का पता नहीं चल पा रहा था।

आरोपी मासूम रंजन के बड़े भाई दीपक का दोस्त है, जो राज मिस्त्री का काम करता है। मंगलवार सुबह 11.45 बजे उसने 12 वर्षीय रंजन का अपहरण कर लिया और उसके बाद उसने रंजन के पिता गोरखनाथ से उसकी जान का हवाला देकर 3 लाख की फिरौती मांगी।

फिरौती का फोन आने के बाद गोरखनाथ पुलिस के पास पहुंचा जिसके बाद पुलिस तुरंत इस मामले को ट्रेस करने में जुट गई और कल दोपहर अढ़ाई बजे मन्नन को गिरफ्तार कर लिया गया। उसने अपहरण के बाद जब उसके पिता को फोन किया था, तब तक वह रजन की हत्या कर चुका था। कल देर शाम 7.25 बजे उसने रंजन के शव को एक बोरी में डाला और रिक्शा पर ले जाकर सुल्तानविंड नहर बोरी फैंक दी।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.