परवाणू: पंद्रह वर्ष पुरानी परवाणू टर्मिनल सेब मंडी आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित, मजदूरों व् आढ़तियों को हो रही ख़ासी परेशानी

परवाणू: पंद्रह वर्ष पुरानी परवाणू टर्मिनल सेब मंडी आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित, मजदूरों व् आढ़तियों को हो रही ख़ासी परेशानी

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 01 Aug, 2021 09:31 am प्रादेशिक समाचार सुनो सरकार विज्ञान व प्रौद्योगिकी लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर सोलन

हिमाचल जनादेश, परवाणू(अमित ठाकुर)

 


परवाणू टर्मिनल मंडी में सेब सीजन के शुरू होते ही आढ़तियों, ग्रोवरों  व् मजदूरों की आवजाही में बढ़ोतरी हो जाती है ! ऐसे में हर  वर्ष ए.पी.एम.सी द्वारा दी जाने वाली  मूलभूत सुविधाओं को लेकर अक्सर ग्रोवर मजदूर व् आढ़ती व् मंडी प्रशासन में मतभेद रहता है ! एक ओर जहाँ ग्रोवर व् मजदूर असुविधाओं की बात करते हैं वहीँ प्रशासन वर्ल्ड बैंक द्वारा मंडी को हाईटेक करने को लेकर अपना बचाव करते हैं ! इस बारे में बात करने पर मजदूरों ने कहा की सेब मंडी में पानी व् शौचालय न होने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है ! 

उन्होंने बताया की मंडी में सीजन के दौरान करीब 2 हजार लोग आते हैं ऐसे में प्रशासन द्वारा पर्याप्त सुविधाएँ लोगों को नहीं मिल पाती ! उन्होंने कहा की पानी के लिए भी हफ्ते में पांच दिन हाइवे के नजदीक चश्मे से लाना पड़ता है ! जुब्बल से आये कुछ ग्रोवरों ने नाराज़गी जताते हुए कहा की 15 वर्ष से अधिक पुरानी इस मंडी में हर वर्ष मूलभूत सुविधाओं के लिए प्रशासन को बोलना पड़ता है मगर पर्याप्त सुविधाएँ नहीं मिलती ! ग्रोवेरों ने मंडी को हाईटेक करने के लिए सरकार की प्रशंसा की तथा आभार भी व्यक्त किया साथ ही  मजदूरों व् आढ़तियों को होने वाली समस्या पर नाराजगी भी जाहिर की ! उन्होंने कहा की मंडी में आने वाले ग्रोवरों के लिए रहने की कोई  सुविधा नहीं है जिस से उन्हें अक्सर गाड़ी में सोना पड़ता है जो की सुरक्षा की दृष्टि से अच्छा नहीं है ! 

एक नजर इधर भी-चंबा में ही नहीं भटियात व कांगड़ा में भी मनाई जाती है मिंजर,पढ़ें क्या है रस्म

उन्होंने मंडी में किसान भवन की मांग की व् मजदूरों के लिए शौचालय व् पानी की उचित व्यवस्था का प्रबंध करने की मांग की ! वहीँ ए.पी.एम.सी सोलन के सचिव रविंदर शर्मा ने मंडी को हाईटेक करने का हवाला देते हुए कहा की वर्ल्ड बैंक द्वारा मंडी को हाईटेक किया जा रहा है व् भविष्य में आढ़तियों व् मजदूरों को किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा ! उन्होंने कहा की वर्ल्ड बैंक द्वारा किये जा रहे निर्माण के चलते प्रशासन द्वारा कोई भी अतिरिक्त कार्य नहीं किया जा सकता परन्तु हम फिर भी सबकी सुविधा को ध्यान में रख कर कार्य करने का प्रयास कर रहे हैं ! रविंदर शर्मा ने बतया की हाल ही में पानी के लिए दो हजार लीटर की टंकी भी मंडी में रखवाई गयी है ! 

उन्होंने माना की अस्थाई तौर पर जो शौचालय ठीक करवाए गए थे उन्हें तोड़ दिया गया है जिसकी जानकारी उन्हें नहीं  दी गयी थी ! रविंदर शर्मा ने कहा की इस समस्या के लिए वह जल्द से जल्द कार्य करेंगे ताकि  इस समस्या का शीघ्र हल हो सके !

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.