विकास क्या होगा, जब मंत्रियों के पास भविष्य के लिए न कोई नीति है न विजन - जीएस बाली

विकास क्या होगा, जब मंत्रियों के पास भविष्य के लिए न कोई नीति है न विजन - जीएस बाली

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 24 Feb, 2021 06:40 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल सुनो सरकार ताज़ा खबर स्लाइडर काँगड़ा आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश ,नरेश ठाकुर (राज्य ब्यूरो )

पूर्व मंत्री जीएस बाली ने सरकार पर निशाना साधा है। बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि बजट पूरे वर्ष के लिए प्रदेश में विकास और जनहित कामों की रूपरेखा तय करता है।

बजट के आधार पर ही विभागों की जनहित में योजनाएं तय और क्रियान्वित होती हैं। लेकिन अखबार के अनुसार आधे से ज्यादा मंत्री अपने विभागों से सबंधित कोई विजन कोई योजना कोई नीति बजट में शामिल करने को अभी तक नहीं बता पाएं हैं। और तो और मुख्यमंत्री स्कूल टीचर की तरह बार बार लास्ट डेट बोलकर यह सब सबमिट करने के लिए कह रहे हैं।

एक नजर इधर भी - हिमाचल जनादेश करियां-भड़िया पुल हादसा विशेष ,ओवरलोड की बलि चढ़े परेल व करियां-भड़ियां पुल

हैरानी की बात है कि दो दिन में बजट सत्र शुरू होने वाला है औऱ ऐसा रवैया बताता है कि भाजपा सरकार और उसके मंत्री अपनी जिम्मेदारियों को किस तरह से निभा रहे हैं। मुख्यमंत्री की सरकार पर क्या पकड़ है? आम जनता के हितों और प्रदेश के भविष्य से जुड़े बजट जैसे अहम मुद्दे पर सरकार की क्या संवेदनशीलता है ?आनन फानन में अब बिना विजन बिना सोच बिना स्टडी बजट में कोरी घोषणाओं को शामिल किया जाएगा और महज खानापूर्ति के लिए बजट सत्र रह जाएगा।

अपने महकमों में क्या बेहतर हो, कहां से जनता को लाभ हो, किन सुधारों की जरूरत हो ?  यह सब भी जब मंत्री और उनसे जुड़ा सरकारी अमला नहीं सोच पा रहा। जब सरकार और मंत्री ये भी नहीं सोच पा रहे तो प्रदेश की तरक्की में क्या योगदान इनके द्वारा दिया जाएगा।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.