आयुष्मान योजना के बेहतरीन कार्यान्वयन के लिए आईजीएमसी को मिला पुरुस्कार,डॉ जनकराज बोले- सम्पूर्ण स्टाफ का सहयोग से हुआ सम्भव

आयुष्मान योजना के बेहतरीन कार्यान्वयन के लिए आईजीएमसी को मिला पुरुस्कार,डॉ जनकराज बोले- सम्पूर्ण स्टाफ का सहयोग से हुआ सम्भव

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 26 Jan, 2021 03:24 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर शिमला स्वस्थ जीवन शिक्षा व करियर आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,शिमला (ब्यूरो )

72वें गणतंत्र दिवस उपलक्ष पर आईजीएमसी को स्वास्थ्य के क्षेत्र विशेषतः आयुष्मान भारत योजना के कार्यान्वयन में उत्कृष्ट सेवाओं के लिए अवार्ड से सम्मानित किया गया। आईजीएमसी की ओर से ये अवार्ड वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जनक राज ने प्राप्त किया।

आपको बता दें आईजीएमसी को कोरोना काल में और प्रधानमंत्री की महत्वकांक्षी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत के अंतर्गत मरीजों को उत्कृष्ट सुविधा देने के लिए ये अवार्ड दिया गया। सरकार द्वारा अलग-अलग एजेंसियों और मरीजों के सर्वेक्षण के आधार पर आईजीएमसी को इस पुरस्कार से नवाजा गया।

एक नजर इधर भी-किसान आंदोलन: निहंग सिख ने लहराई तलवार, पुलिसकर्मी पर हमले की कोशिश, देखें वीडियो वायरल

हिमाचल जनादेश से बात करते हुए आईजीएमसी वरिष्ठ चिकित्सा अधीक्षक डॉ जनक राज ने बताया कि आईजीएमसी को मिले इस पुरस्कार के लिए आईजीएमसी के चतुर्थ श्रेणी से लेकर उच्चतम श्रेणी के हर अधिकारी, कर्मचारी और चिकित्सक का योगदान है जिन्होंने दिन रात एक करके समर्पण भाव से मरीजों की सेवा में तल्लीन होकर इस उपलब्धि को प्राप्त किया। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री की महत्वकांक्षी स्वास्थ्य योजना आयुष्मान भारत के अंतर्गत जिन भी मरीजों का इलाज हुआ है उन्हें अपने जेब से एक भी रुपया खर्च नहीं करने दिया गया इलाज का संपूर्ण खर्च सरकार ने उठाया है।

उन्होंने कहा कोरोना काल में विकट परिस्थितियों के बावजूद भी आईजीएमसी के चिकित्सकों, नर्सों , चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी व सफाई कर्मचारियों ने अपनी जान को जोखिम में डालकर इस संस्थान में सर्वोत्तम सेवाएं दी हैं आईजीएमसी को मिला उन सभी के संयुक्त प्रयासों का परिणाम है

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.