चम्बा-मलूणा नामक सड़क का निर्माण कार्य में कोताही के कारण चार कारों सहित पहुंची सरकारी आवास को क्षति 

चम्बा-मलूणा नामक सड़क का निर्माण कार्य में कोताही के कारण चार कारों सहित पहुंची सरकारी आवास को क्षति 

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 28 Nov, 2020 06:38 pm प्रादेशिक समाचार क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर चम्बा स्वस्थ जीवन आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,एम.एम.डैनियल(संपादक) 

सड़क निर्माणाधीन कंपनी के सुरक्षा उपयाय नियम न बरतने से घटित हुआ हादसा 

चंबा जिला मुख्यालय के साथ सट्टे चंबा-मलूणा नामक सड़क का निर्माण कार्य में निर्माणाधीन कंपनी द्वारा सुरक्षा उपयाय नियमों का सरेआम उल्लघंन किया जा रहा है।

एक नजर इधर भी-शिमला :सभी सरकारी कर्मचारियों को पांच दिन कार्यालय और छठे दिन वर्क फ्राॅम होम करने का लिया निर्णय

जिसके परिणाम स्वरूप सड़क की कटिंग के दौरान भू-स्खलन होने से भारी-भरकम चट्टानें खिसक कर रिहायशी इलाके में जा गिरी। इन चट्टानों की चपेट में आकर 4 वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। 

वहीं एक सरकारी आवास के भीतर भी चट्टान घुस गई। जिससे घर में भी नुक्सान हुआ है। इस दौरान गनीमत है कि वाहनों व क्षतिग्रस्त हुए आवास के रसोईघर में कोई मौजूद नहीं था जिसके कारण जानी कोई नुक्सान नहीं हुआ है। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने सड़क निर्माण में लगी मंडी की कंपनी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। वहीं स्थानीय लोगों ने कंपनी प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही कर उन्हें नुक्सान के बदले मुआवजा दिलाने की मांग की है।

गौर हो कि सड़क निर्माण कार्य को हाल ही में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने हरी झंडी दिखाई है। जिसके चलते सदर विधायक के प्रयासों से सड़क निर्माण कार्य शुरू भी हो गया। लोनिवि चंबा द्वारा चंबा-मलूणा सड़क निर्माण का दायित्व जिला मंडी की एक कंपनी को सौंपा है।

कंपनी द्वारा हालांकि निर्माण कार्य औपचारिकताएं पूर्ण करने के बाद निर्माण कार्य तो आरंभ कर दिया लेकिन सरकार व विभाग के इस दिशा में सहयोग प्राप्ती और इस जोश में निर्माणाधीन कंपनी निर्माण के साथ वहां लगते रिहायशी क्षेत्र को भूल गए। 

नई सड़क निर्माण कार्य के लिए कटिंग कार्य के लिए कंपनी द्वारा हैवी मशीन एलएनटी का प्रयोग कर उसे कार्य पर लगाया गया ताकि कार्य को रफ्तार मिल सके लेकिन कार्य रफ्तार के चक्कर में कंपनी द्वारा सुरक्षा उपयायों का दरकिनारे रख दिया। कटिंग क्षेत्र के साथ जुड़ते रिहायशी क्षेत्र को कवर करने के लिए कोई भी अस्थायी सुरक्षा दीवार या शीट लगाने का इंतजाम नहीं किया गया।जबकि चंबा-मलूणा निर्माणीन मार्ग के ठीक नीचे से चंबा-साहो-सिल्लाघ्राट-बालू मार्ग गुजरता है।

जबकि इसी मार्ग को भरमौर-होली जाने वाले बड़े माल वाहनों के लिए सुनिश्वित किया गया है। वहीं इसी क्षेत्र में टीबी चिकित्सालय व आवासीय क्लोनी भी है। इन साब बातों को नजर अंदाज का खामियाजा शनिवार को चार कार मालिकों व आवासीय क्लोनी के एक परिवार को चुकाना पड़ गया।

वहीं इस घटना से प्रभावित लोगों के अनुसार सड़क निर्माण के दौरान सुबह भारी चट्टानें उनकी कारों पर आ गिरी। जिससे उनकी मार्ग के एक तरफ पार्क की कारें क्षतिग्रस्त हो गई है। इसके अतिरकत् एक भी भरकम चट्टान मार्ग के दूसरी ओर तीव्रता उछलती हुई सरकारी आवास भवन से जा टकराई। यह तो मार्ग के दूसरी ओर भी कारें लगने के कारण उस चट्टान की गति कुछ हद तक रूक गई अन्यथा वह पूरे भवन को अपनी चपेट में ले सकती थी। उन्होंने मांग की है कि उनके नुक्सान की भरपाई की जाए तथा कंपनी प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही की जाए।

वहीं मौके पर पहुंचे पुलिस चौकी चंबा के प्रभारी ए.एस.आई. विक्रम सिंह के अनुसार सूचना मिलते ही वह यहां पहुंचे हैं तथा पाया कि सड़क कटिंग के दौरान भारी चट्टानें गिरने से चार वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं जबकि एक सरकारी आवास में भी नुक्सान हुआ है।

उन्होंने कहा कि पुलिस कार्यवाही कर रही है तथा अगर कंपनी ने लोगों के नुक्सान की भरपाई नहीं की तो उनके खिलाफ एफ.आई.आर. दर्ज की जाएगी।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.