जनादेश विशेष:अमेरिका ने कोविड-19 से निपटने के लिए इजाद किया एंटीबॉडी थेरेपी का फार्मूला

जनादेश विशेष:अमेरिका ने कोविड-19 से निपटने के लिए इजाद किया एंटीबॉडी थेरेपी का फार्मूला

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 22 Nov, 2020 10:40 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार देश और दुनिया ताज़ा खबर स्लाइडर स्वस्थ जीवन

हिमाचल जनादेश,एम एम डैनियल(संपादक)

जहां पूर्ण विश्व कोरोना महामारी से बचाव के लिए वैक्सीन की खोज में दिन रात जुटा है। वहीं अमेरिका में कोविड-19 से निपटने के लिए अमेरिका प्रशासन ने इससे निपटने का फर्मूला निजात कर लिया है। अमेरिका में कोविड-19 के दौरान संक्रमण व्यक्ति को एंटीबॉडी थेरेपी देने का आपात फैसला लिया है। जबकि कोविड-19 में एंटीबॉडी थेरेपी प्रक्रिया से डोनाल्ड ट्रंप भी गत माह इसका इस्तेमाल कर चुके है। जिसके साकारात्मक परिणाम देखते हुए उसे जनहित में लागू करने का भी पहल कर डाली है। 

गौर हो कि एंटीबॉडी थेरेपी के कारण ही डोनाल्ड ट्रम्प ने पिछले महीने कम समय में ही कोरोना वायरस संक्रमण को हराया था और चुनाव प्रचार अभियान में वापसी की थी।  इस थैरेपी में दो मोनोक्लोनल एंटीबॉडी का इस्तेमाल किया गया था। जोकि एसएआरएस-सीओवी-2 वायरस को इनएक्टिव करते हैं। इससे उसके शरीर में फैलने की क्षमता रुक जाती है और रिएक्शन टाइम कम हो जाता है। इस कामयाबी के पश्चात अमेरिका प्रशासन ने जनहित निर्णय लेते हुए इस थेरेपी को सार्वजनिक करने का निर्णय लिया है। ताकि कोविड-19 महामारी से ज्यादा से ज्यादा से नागरिकों स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान की जा सके। इस फैसले के बाद मरीज को बिना अस्पताल में भर्ती करवाएं ही कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज हो सकेगा।         
   एक नजर इधर भी - शिमला:रामपुर में कोरोना से रविवार को एक व्यक्ति की मौत    
इस संदर्भ में विस्तृत रूपसे जानकारी देते हुए अमेरिकी फुड एंड  ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन के कमीश्नर स्टीफन हान ने बताया कि इन मोनोक्लोनल एंटीबॉडी थेरेपी को अधिकृत करने से मरीजों को चिकित्सालय में भर्ती होने और हमारे स्वास्थ्य देखभाल पर बोझ को कम करने में मदद मिल सकती है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कोविड-19 का इलाज करने में दिए गए सिंथेटिक एंटीबडी थेरेपी का इस्तेमाल अब सार्वजनिक तौर पर करने का आपातकालीन फैसला अमेरिकी प्रशासन ने लिया है। 

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.