पुण्यतिथि 24 अक्टूबर : आज भी हर पार्टी की शान होता है मन्ना डे का ये Superhit गाना

पुण्यतिथि 24 अक्टूबर : आज भी हर पार्टी की शान होता है मन्ना डे का ये Superhit गाना

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 23 Oct, 2020 09:56 pm देश और दुनिया धर्म-संस्कृति लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर मनोरंजन

हिमाचल जनादेश,न्यूज़ डेस्क 

मन्ना डे वो नाम है जो हमेशा सबके दिलों में जिंदा रहेगा।उनके गानों की आवाज जब भी कानों में पड़ती है तभी सारे गानें दीमाग में आने लगते हैं।मन्ना डे भारत के लिए अनमोल रत्न हैं और रहेंगे। 

24 अक्टूबर 2013 को मन्ना डे को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।बॉलीवुड के दिग्गज कलाकारों के लिए अपनी आवाज देने वाले लीजेंड्री प्लेबैक सिंगर मन्ना डे का जन्म 1 मई 1919 को हुआ था  मन्ना डे का असली नाम प्रबोध चंद्र डे था।


मोहम्मद रफी कहा करते थे, 'सारी दुनिया मेरे गाने सुनती है, मैं तो सिर्फ मन्ना डे के गाने सुनता हूं।' मन्ना डे के कई गानें आज भी शादी और पार्टीज की शान होते हैं। जैसे ए मेरी जोहरा जबीं तुम्हें मालूम नहीं। मन्ना डे को आजादी से पहले साल 1942 में 'तमन्ना' फिल्म में गाने का मौका मिला था। जिसमें उनका साथ सुरैया ने दिया था। इस फिल्म में कृष्ण चंद्र डे ने संगीत दिया था। 

ये गाना सुपरहिट रहा था---
हिन्दी के साथ-साथ मन्ना डे ने बंगाली में भी कई गाने गाए जो काफी सुपरहिट हुए। मन्ना डे ने लगभग 4,000 से ज्यादा गाने गाए हैं और इस सभी गानो में से किसी एक को कम ज्यादा कहना बेहद मुश्किल है।

मन्ना डे के सभी गाने दिल पर एक छाप छोड़ते हैं। इसके अलावा 'यशोमती मैया से बोले नंदलाला', 'तू प्यार का सागर है तेरी एक बूंद के प्यासे हम', 'प्यार हुआ इकरार हुआ', 'यह रात भीगी-भीगी', 'यारी है ईमान मेरा', 'बाबू समझो इशारे', 'आओ ट्विस्ट करें', 'नदिया चले चले रे धारा' गाने बेहद खूबसूरत हैं।

पुरुस्कार
मन्ना डे को अपने बेहतरीन योगदान के लिए साल 1971 में पद्म श्री, साल 2005 में पद्म भूषण और साल 2007 में दादा फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।फिल्म 'श्री 420' का गाना 'ये रात भीगी-भीगी' मन्ना डे और लता मंगेशकर ने गाया था जिसे न​रगिस और राज कपूर पर फिल्माया गया था। बॉलीवुड के इस लैंडमार्क गीत को हर अवॉर्ड फंक्शन में याद किया जाता है।

अनमोल यादें
फिल्म पड़ोसन का 'एक चतुर नार बड़ी होशियार' गाने को मन्ना​ डे ने किशोर कुमार और महमूद के साथ गाया था और आर डी बर्मन का बनाया यह गाना बॉलीवुड के संगीत इतिहास का अमर गाना है।

पसंदीदा अभिनेता
मन्ना डे राजेश खन्ना के फैन थे। उन्होंने कहा था, 'राजेश खन्ना जिस तरह म्यूजिक को पिक्चराइज करते हैं वो मुझे बहुत पसंद है। गाने की सफलता इस पर निर्भर करती है कि एक एक्टर उसे किस तरह पिक्चराइज करता है। गानों को पिक्चराइज करने में राजेश खन्ना नंबर वन है। मैं हमेशा उनका एहसानमंद रहूंगा।'
 

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.