चम्बा :कृषि,बागवानी,पशुपालन विभाग प्रस्तावित संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र के लिए डीपीआर तैयार करें अधिकारी -पी पी सिंह 

चम्बा :कृषि,बागवानी,पशुपालन विभाग प्रस्तावित संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र के लिए डीपीआर तैयार करें अधिकारी -पी पी सिंह 

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 23 Oct, 2020 08:41 pm प्रादेशिक समाचार विज्ञान व प्रौद्योगिकी लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर चम्बा स्वस्थ जीवन आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,कमल राजपूत (जिला ब्यूरो )

होली के ग्वाला में 40 बीघा भूमि  संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र के लिए चयनित 

जनजातीय क्षेत्र भरमौर उपमंडल में ग्रामीण आर्थिकी को संबल देने के उद्देश्य से प्रशासन द्वारा होली उप तहसील में ग्वाला नामक स्थल पर कृषि बागवानी व पशुपालन विभाग के संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र भवन के निर्माण की  कार्य योजना को मूर्त रूप देने के लिए 40 बीघा भूमि का चयन किया गया है। 

यह जानकारी अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी भरमौर पी पी सिंह ने कृषि,बागवानी वह पशुपालन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक में गहन विचार विमर्श के  दौरान दी। 

उन्होंने कहा कि ग्रामीण आर्थिकी को मजबूत करने के उद्देश्य से किसानों बागवानो  और पशुपालकों के क्लस्टर का निर्माण प्रक्रिया लगभग पूर्ण हो चुकी है, लिहाजा खेती बागवानी पशुपालन से जुड़े हुए लोगों को भरमौर क्षेत्र में ही सभी सुविधाएं उपलब्ध हो, इसके लिए वृहद कार्ययोजना के तहत संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र भवन का प्रस्ताव प्रदेश सरकार को स्वीकृति हेतु भेजा जाएगा जिसकी डीपीआर बनाने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं।

आधुनिक रूप से  नवीनतम तकनीकी सुविधाओं से लैस इस संयुक्त प्रशिक्षण केंद्र में अनुसंधान केंद्र की तर्ज पर किसानों बागवानो वा पशुपालकों के उत्थान व सर्वांगीण विकास के लिए सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध रहेगी। इसके लिए विशेषज्ञों की राय ली जा रही है,जल्द ही इस प्रस्ताव को प्रदेश सरकार की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। 

बैठक में विषय वस्तु विशेषज्ञ रामचंद,सहायक निदेशक पशुपालन डॉ सतीश कपूर,अधिशासी अभियंता जल शक्ति विभाग रजनीश ओंकार,उद्यान विकास अधिकारी भूपेंद्र सिंह मौजूद रहे।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.