बिलासपुर:सनौर गांव के जीत राम बने प्ररेक, 48 परिवारों को मिली उनसे सब्जी उत्पादन की प्ररेणा

बिलासपुर:सनौर गांव के जीत राम बने प्ररेक, 48 परिवारों को मिली उनसे सब्जी उत्पादन की प्ररेणा

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 01 Oct, 2020 01:33 pm प्रादेशिक समाचार विज्ञान व प्रौद्योगिकी लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर बिलासपुर शिक्षा व करियर आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश ,बिलासपुर (ब्यूरो )
 

बिलासपुर की घुमारवीं तहसील की पनोह पंचायत के सनौर गांव के जीत राम ने सब्जी उत्पादन से कामयाबी की प्ररेककथा लिखी है।जीत राम हिमाचल प्रदेश फसल विविधिकरण प्रोत्साहन परियोजना-चरण एक के तहत बकरोआ उपयोजना के एक लाभार्थी है। जीत राम के पास 1.45 हैक्टेयर कृषि भूमि है, जिसमें से 1.35 हैक्टेयर पर वह खेती करते है।

एक नजर इधर भी - पाकिस्तान ने की नियंत्रण रेखा के पास गोलीबारी,भारतीय सेना का जवान शहीद, एक घायल

बकरोआ उपयोजना की सनौर गांव की 10.37 हैक्टेयर कृषि भूमि और 48 कृषक परिवारों को लाभ हुआ है। इस उपयोजना के तहत किसानो को पावर बीडर, सोलर स्पे्रयर व टपक सिंचाई सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। किसानो को सब्जी उत्पादन के लिए प्रशिक्षण प्रदान करने के साथ उच्च पैदावार वाले बीज व गुणवता वाला प्लांटिग मैटीरियल उपलब्ध करवाने में भी सहायता की गई है। 

उप योजना के शुरु होने से पहले जीत राम भी अन्य कृषको की तरह पारम्परिक खेती कर रहे थे और महज दस प्रतिशत कृषि भूमि पर सब्जी उगाते थे। खेती से घर व बच्चो की पढाई का खर्च बड़ी मुश्किल से चल रहा था। सलाना आय महज 56 हजार थी। बकरोआ उप योजना के शुरु होने के साथ ही जीत राम ने कृषि विभाग के सहयोग से 1000 वर्ग क्षेत्र में दो पालीहाउस स्थापित किये। 

विशेषज्ञो के दिशा निर्देश व तकनीकी सहायता से जीत राम ने 2020 के खरीफ सीजन में खीरा, टमाटर, बैंगन, भिण्डी व वेल वाली फसलो की खेती की और 0.24 हैक्टेयर से 1 लाख 85 हजार की आय अर्जित की। खरीफ सीजन के शानदार नतीजो को देखते हुए इस बार जीत राम ने बडे पैमाने पर गोभी, ब्रोकली व पतीदार सब्जी उत्पादन की दिशा में कदम बढाये है।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.