बिजली बोर्ड में 22 लाख का घपला , चंबा में क्लर्क पर गबन का आरोप,  महकमे ने किया सस्पेंड

बिजली बोर्ड में 22 लाख का घपला , चंबा में क्लर्क पर गबन का आरोप,  महकमे ने किया सस्पेंड

Piyush 23 Sep, 2020 06:18 pm प्रादेशिक समाचार क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार ताज़ा खबर स्लाइडर चम्बा

हिमाचल जनादेश, चम्बा (कमल ठाकुर)


बिजली बोर्ड चंबा मंडल की लेखा शाखा में कार्यरत लिपिक ने कर्मचारियों व पेंशनभोगियों के लाखों रुपए डकार लिए। आरंभिक जांच में लिपिक द्वारा करीब 20 से 22 लाख रुपए के गोलमाल करने की बात सामने आई है। मामला उजागर होने के बाद लिपिक को सस्पेंड कर हैडक्वार्टर डलहौजी फ्क्सि कर दिया गया है। इसके साथ ही लिपिक के खिलाफ विभागीय जांच के लिए भी उच्चाधिकारियों को पत्र भेजा गया है। बिजली बोर्ड चंबा मंडल के एक्सईएन पवन शर्मा ने खबर की पुष्टि की है। जानकारी के अनुसार बिजली बोर्ड चंबा मंडल की लेखा शाखा के लेखाकार ने शिकायत की थी कि अधीनस्थ लिपिक द्वारा कर्मचारियों की तनख्वाह व पेंशनर्ज के बिल आदि में बड़े पैमाने पर वित्तीय अनियमितताएं बरती गई हैं।

एक नजर इधर भी- मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे
इस शिकायत पर बिजली बोर्ड चंबा मंडल के एक्सईएन ने विभागीय स्तर पर जांच की तो लिपिक पर वित्तीय अनियमितताएं बरतने के आरोप सही पाए गए। लिपिक की बैंक की पासबुक जांचने पर भी वित्तीय ट्रांजेक्शन की बात पाई गई। इस पर बिजली बोर्ड के एक्सईएन ने लिपिक के खिलाफ एक्शन लेते हुए वित्तीय अनियमितताएं बरतने को लेकर सस्पेंड कर दिया। इसके साथ ही लिपिक का हैडक्वार्टर डलहौजी फिक्स किया गया है। एक्सईएन की ओर से लिपिक के खिलाफ डिपार्टमेंटल इंक्वायरी की अनुशंसा भी की गई है।

 उधर, बिजली बोर्ड चंबा मंडल के एक्सईएन पवन शर्मा ने बताया कि आरंभिक जांच में लिपिक द्वरा 20 से 22 लाख की वित्तीय अनियमितताएं बरतने की बात सामने आई है। उन्होंने बताया कि लिपिक को सस्पेंड कर हैडक्वार्टर डलहौजी फिक्स कर दिया गया है। लिपिक के खिलाफ विभागीय जांच की उच्चाधिकारियों से अनुशंसा की गई है।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.