भरमौर उपमंडल में हिमाचल प्रदेश बागवानी विकास प्रोजेक्ट के तहत किसान बागवान उत्पादक कंपनी का गठन किया जाएगा

भरमौर उपमंडल में हिमाचल प्रदेश बागवानी विकास प्रोजेक्ट के तहत किसान बागवान उत्पादक कंपनी का गठन किया जाएगा

Piyush 10 Sep, 2020 04:36 pm प्रादेशिक समाचार सुनो सरकार विज्ञान व प्रौद्योगिकी लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर चम्बा स्वस्थ जीवन शिक्षा व करियर आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,चम्बा (कमल राजपूत )

जनजातीय क्षेत्र भरमौर उपमंडल में बागवानो और किसानों की आर्थिकी को सुदृढ़ बनाने के लिए हिमाचल प्रदेश बागवानी विकास प्रोजेक्ट के तहत भारतीय समृद्धि फाइनेंस एंड कंसलटेंसी सर्विसेज संस्था द्वारा धरातल पर वृहद कार्य योजना की रूपरेखा तैयार की जा रही है।जिसके लिए संस्था द्वारा भरमौर में विभिन्न पंचायतों में बागवानो और किसानों को प्रशिक्षण शिविर के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है।

एक नजर इधर भी - भरमौर :बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री कंगना के समर्थन में उतरे भाजपाई,राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी भरमौर पी पी सिंह ने भारतीय समृद्धि फाइनेंस एंड कंसलटेंसी सर्विसेज संस्था के अधिकारियों के साथ बैठक में चर्चा के दौरान बताया कि संस्था द्वारा भरमौर उपमंडल के किसानों एवं बागवानो के क्लस्टर के उपरांत उत्पादक कंपनी का गठन किया जाएगा। इस कंपनी को किसान एवं बागवान खुद ही संचालित करेंगे इसका लाभांश भी किसानों एवं बागवानों को ही मिलेगा।

इस कार्य योजना को धरातल पर अमलीजामा पहनाने के लिए संस्था द्वारा 15 से 20 लोगों का ग्रुप बनाया जाएगा और लगभग 300 किसानों एवं बागवानो को संगठित रूप में जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।संस्था द्वारा लोगों को प्रशिक्षण शिविरों के माध्यम से बागवानी के आधुनिक तकनीक की बारीकियों से रूबरू करवाया जाएगा तथा बे मौसमी सब्जियों के उत्पादन पर भी बल दिया जाएगा।

बागवानो  को उन्नत किस्म के सेब के पौधे 200 रुपए के करीब उपलब्ध करवाए जाएंगे तथा खाद व बीज और दवाइयां इत्यादि भी मुहैया करवाई जाएंगी किसानों व बागवानों के उत्पाद का मंडियों में अच्छे दाम मिले।इसके लिए उत्पाद की ग्रेडिंग पैकिंग मार्केटिंग की ट्रेनिंग के साथ-साथ पौधों की कटाई छटाई सप्रे शेड्यूल व उत्पाद में लगने वाले रोगों के निदान के बारे में भी संस्था द्वारा प्रशिक्षण शिविरों के माध्यम से विशेषकर युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा।

संस्था के टीम लीडर एसपी चतुर्वेदी बेसिक्स एचपी हॉर्टिकल्चर डेवलपमेंट प्रोजेक्ट ने बताया कि इस कार्य योजना को मूर्त रूप देने के लिए संस्था द्वारा भरमौर उप मंडल के विभिन्न विभागों के साथ समन्वय स्थापित किया जा रहा है और जल्द ही निकट भविष्य में किसान बागवान उत्पाद कंपनी का गठन किया जाएगा।

यहां की फल व सब्जियों के प्रसंस्करण केंद्र की  कार्य योजना पर भी रूपरेखा तैयार की जा रही है।शुरुआती दौर में प्रशिक्षण शिविर के माध्यम से भरमौर के लोगों के साथ समन्वय स्थापित करने के साथ-साथ उन्हें इस महत्वपूर्ण कार्य योजना के बारे में जागरूक किया जा रहा है।


बैठक में संस्था के सामाजिक विकास विशेषज्ञ रमेश बदरेल,वित्तीय विशेषज्ञ राकेश ठाकुर व उद्यान विकास अधिकारी भरमौर भूपेंद्र कुमार भी मौजूद रहे।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.