करसोग:कर्म कांडी, पुजारी, तीर्थ पुरोहित व ज्योतिषियों को भी राहत की जरूरत,प्रदेश ब्राह्मण सभा ने उठाई मांग 

करसोग:कर्म कांडी, पुजारी, तीर्थ पुरोहित व ज्योतिषियों को भी राहत की जरूरत,प्रदेश ब्राह्मण सभा ने उठाई मांग 

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 31 Mar, 2020 07:36 pm प्रादेशिक समाचार सुनो सरकार धर्म-संस्कृति ताज़ा खबर स्लाइडर मण्डी स्वस्थ जीवन

हिमाचल जनादेश, करसोग(पीयूष शर्मा)

 

 हिमाचल प्रदेश ब्राह्मण सभा ने केंद्र और राज्य सरकार से की मांग कोरोना के लॉक डाउन के चलते केंद्र और राज्य सरकार कर्मकांड ब्राह्मण, पुजारी ,तीर्थ पुरोहित व ज्योतिषियों भी राहत पैकेज दे । ब्राह्मण वर्ग की राहत पैकेज में शामिल अन्य   समूहों की तरह इनका अधिकार है, जबकि यह वर्ग भी पूजा-पाठ व तीर्थ पर सेवा का अपनी  सेवा देकर अपना उपार्जन व जीवन यापन करते हैं। 

ब्राह्मणों के लिए राहत पैकेज की मांग हिमाचल प्रदेश ब्राह्मण सभा ने की है।हिमाचल प्रदेश ब्राह्मण सभा के फाउंडर सदस्य शालू शर्मा का कहना है कि केंद्र सरकार तथा विभिन्न राज्य सरकारों ने किसानौं, बी पी एल कार्ड धारी, पेंशनर्स, विकलांग विधवा, वृद्ध, दिहाड़ी मजदूर, कर्मचारी अधिकारी, स्वास्थ्य कर्मी, उज्जवला समूह, जनधन खाता धारी सहित विभिन्न प्रकार की कैटेगरी के लगभग 130 करोड़ लोगों को1.70 लाख  करोड़ रुपए  कि राहत पैकेज की घोषणा कर दी है, लेकिन ब्राह्मण समाज को धार्मिक अनुष्ठानों, पूजा पाठ ,मंदिरों व तीर्थों की सेवा मैं लगा हुआ है उसके लिए कोई घोषणा नहीं की गई। 

 ऐसी ब्राह्मण जो प्रतिदिन पूजन पाठ व मंदिरों की सेवा के रूप में आजीविका अर्जित करते हैं।  उनकी भी सहायता सरकार को करनी चाहिए इस घड़ी के संकट में सरकार की योजनाओं से ब्राह्मण वर्ग वंचित है। लाक डाउन में मंदिर तीर्थ कर्मकांड, पूजा- पाठ आदि भी कार्य बंद है यहां तक कि अति आवश्यक कार्य कर्म पिंड तथा दान भी रोक दिए गए हैं।   इस वर्ग के सामने भी जीवन यापन का संकट खड़ा है। 

एक नजर इधर भी -बिलासपुर:गरीबों की मदद के लिए आगे आये पूर्व विधायक बंबर ठाकुर,जरूरतमंदों को बांटी राशन और खाद्य सामग्री

 सरकार इस बड़े वर्ग को राहत में शामिल करती है तो देश के ब्राह्मण समाज के भी राहत मिलेगी। पंडित शालू शर्मा ने बताया कि इस संबंध में केंद्र और व राज्य सरकार को ज्ञापन भेज कर ब्राह्मणों की स्थिति की जानकारी दी जाएगी ।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.