काँगड़ा :ब्राह्मण कल्याण परिषद के रजत जयंती समारोह में बोले जय राम ठाकुर,ब्रजेश्वरी धाम मकर संक्रांति पर्व को मिलेगा जिला स्तरीय दर्जा  

काँगड़ा :ब्राह्मण कल्याण परिषद के रजत जयंती समारोह में बोले जय राम ठाकुर,ब्रजेश्वरी धाम मकर संक्रांति पर्व को मिलेगा जिला स्तरीय दर्जा  

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 09 Jan, 2020 06:38 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल सुनो सरकार धर्म-संस्कृति ताज़ा खबर स्लाइडर काँगड़ा आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश,काँगड़ा(ब्यूरो)

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आज कांगड़ा में आयोजित ब्राह्मण कल्याण परिषद के रजत जयंती समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। इस अवसर पर उन्होंने ब्रजेश्वरी धाम में मकर संक्रांति पर्व को जिला स्तरीय दर्जा देने की घोषणा की है। उन्होंने जिला प्रशासन को परशुराम भवन निर्माण के लिए लीज डीड की औपचारिकताएं पूर्ण करने के लिए दिए निर्देश भी दिए। उन्होंने ब्राह्मण कल्याण परिषद को भवन निर्माण के लिए 21 लाख का अंशदान देने की घोषणा भी की।

इस अवसर पर जय राम ठाकुर ने कहा कि संस्कृति तथा परंपराओं के संरक्षण में सामाजिक संस्थाओं की अहम भूमिका रही है, समाजिक संस्थाएं विभिन्न प्रकल्पों के माध्यम से आम जनमानस की भलाई के कार्य कर रही हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनमानस को अनुशासित व एकता के सूत्र में बांधने के लिए सामाजिक समरसता तथा समभाव जरूरी है। 

हिमाचल प्रदेश के हर क्षेत्र में बसे ब्राह्मण समाज के प्रति आदर व सम्मान का दृष्टिकोण रहा है। यहां के मंदिर व देव स्थान इस सत्य के उदाहरण हैं। हमारा प्रदेश धार्मिक पर्यटन की दृष्टि से विकसित हो रहा है। लोक संस्कृति की परंपरा को निरंतर बनाए रखने में ब्राह्मण समाज का महत्वपूर्ण योगदान है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019(सीएए) पारित किया है। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने इस कानून के माध्यम से हमारे तीन पड़ोसी इस्लामिक देशों में दशकों से धार्मिक उत्पीड़न के शिकार हिंदू, सिख, ईसाई, बौद्ध, जैन और पारसी समुदाय के लोगों के लिए भारत में नागरिकता लेने की राह को आसान किया है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को हटाकर देश को मजबूती प्रदान की है।

मुख्यमंत्री ने शहीदों के परिजनों, शिक्षाविदों, ब्राह्मण कल्याण परिषद के पदाधिकारियों को सम्मानित भी किया।

इससे पहले, पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा कि भारतीय सोच सदैव वसुधैव कुटुंबकम की रही है। उन्होंने कहा कि सामाजिक कुरीतियों को दूर करने के लिए जागरूक होना जरूरी है। जब समाज के सभी वर्ग एक जुट होकर कार्य करेंगे तो निश्चित रूप से ही देश और समाज का विकास होगा।

एक नजर इधर भी-बस कुछ ही घंटों में लगेगा चंद्र ग्रहण : जानिए कहां दिखेगा और किस राशि पर पड़ेगा क्या प्रभाव?

 इस अवसर पर अंतरराष्ट्रीय ब्राह्मण सभा के अध्यक्ष पंडित सुखबीर ने भी अपने विचार व्यक्त किए तथा ब्राह्मण कल्याण परिषद के महासचिव गौतम व्यथित ने परिषद की गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की।

इससे पहले, ब्राह्मण कल्याण परिषद के अध्यक्ष वेद प्रकाश शर्मा ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए ब्राह्मण कल्याण परिषद के आगामी कार्यक्रमों के बारे में अवगत करवाया।

  इस अवसर पर विशाल नैहरिया,  मुलख राज प्रेमी, अरूण मेहरा, केसीसीबी के अध्यक्ष डाॅ. राजीव भारद्वाज, जीआईसी के उपाध्यक्ष मनोहर धीमान, पूर्व विधायक प्रवीण शर्मा, संजय चैधरी, सुरेंद्र काकू, उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति, बास्केटबॅाल एसोसिएशन के अध्यक्ष मुनीष शर्मा और विभिन्न गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.