सांप और नेवले की दुश्मनी की असली कहानी ,क्यों होता है नेवला सांप का जानी दुश्मन

सांप और नेवले की दुश्मनी की असली कहानी ,क्यों होता है नेवला सांप का जानी दुश्मन

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 09 Nov, 2019 12:44 pm प्रादेशिक समाचार देश और दुनिया धर्म-संस्कृति लाइफस्टाइल सम्पादकीय ताज़ा खबर स्लाइडर आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश ,न्यूज़ डेस्क 

आपने हमेशा से सुना होगा की सांप और नेवले में काफी दुश्मनी होती है दोनों एक दूसरे को बिलकुल भी पसंद नहीं करते। लेकिन इस बारे में कोई नहीं जानता की आखिर ये दोनों एक दूसरे के दुश्मन क्यों होते है।

इस बारे में पुराणी मान्यता है जो हम आपको आज बताते है ये बात बहुत प्राचीन है कहा जाता है एक समय नेवला काफी जहरीला हुआ करता था उसके अंदर सांप जैसा जहर हुआ करता था और जहर पर उसको काफी घमंड था वो किसी को कुछ नहीं समझता था।

हर किसी को मारने के लिए आतुर रहता था जंगल के सारे जानवर उससे परेशान रहते थे वो हर किसी को मारने को आतुर रहता था यहाँ तक की जंगल का राजा भी शेर भी भयभीत रहता था की नेवले से दुश्मनी ले लेगा तो उसे काट ना ले एक बार जंगल के सभी जानवरो ने दुखी होकर मीटिंग बुलाई की नेवले से कैसे पीछा छुड़ाया जाये इसके बाद मीटिंग में तय हुआ की सांप नेवले के जहर की थैली अपने अंदर डाल लेगा। दरअसल नेवला जब भी खाने की खोज में निकलता था तो अपने जहर की थैली वो रखकर जाता था बस सांप इसी ताक में बेथ गया की कब नेवला खाने की लिए अपनी जहर की थैली बाहर निकाले और कब वो उगले।

जैसे ही नेवले ने अपनी जहर की थैली को निकाला और दाना चुगने के लिए गया वैसे ही सांप को मौका मिल गया और उसने झट से नेवले की जहर की थैली को अपने अंदर डाल लिया बस उसके बाद से नेवला सांप को अपना कट्टर दुश्मन समझने लगा और उसकी जान का दुश्मन बन गया।


 

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.