मणिमहेश हेलिटेक्सी मामला: जिला उपायुक्त को सोमवार को ज्ञापन सौंपेगी भरमौर कांग्रेस, विजिलेंस जांच करवाने की मांग 

मणिमहेश हेलिटेक्सी मामला: जिला उपायुक्त को सोमवार को ज्ञापन सौंपेगी भरमौर कांग्रेस, विजिलेंस जांच करवाने की मांग 

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 22 Sep, 2019 07:07 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल क्राईम/दुर्घटना सुनो सरकार धर्म-संस्कृति ताज़ा खबर स्लाइडर आधी दुनिया


 हिमाचल जनादेश, ब्यूरो 

मुख्यमंत्री के भरमौर आगमन से पहले कांग्रेस कमेटी भरमौर ने भरमौर प्रशासन व भरमौर के विधायक को अपने चक्रव्यूह में फंसाने की रणनीति तैयार कर ली है।   इस बार कांग्रेस ने श्री मणिमहेश यात्रा के दौरान इस्तेमाल की गई हैली  टैक्सी सेवा का मुद्दा पिटारे से बाहर निकाला है।

अपने आवास पर बुलाई गई एक  बैठक के दौरान भरमौर के पूर्व विधायक व पूर्व वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने मणिमहेश यात्रा के दौरान हेली टैक्सी सेवा में हुई धांधली को लेकर जिला उपायुक्त को ज्ञापन सौंपने का मन बना लिया है।

 ठाकुर सिंह भरमौरी ने कहा कि हाल ही में सम्पन्न हुई  भगवान शिव को समर्पित पवित्र मणिमहेश यात्रा में भरमौर के विधायक ने प्रशासन के साथ मिलीभगत करके हेली टैक्सी सेवा में खूब धांधली की है। इसी धांधली की निष्पक्ष जांच को लेकर वह पूरी भरमौर कांग्रेस कमेटी के साथ सोमवार को जिला उपायुक्त  को ज्ञापन सौंपेंगे।

 उन्होंने बताया कि इस हेलिटेक्सी सेवा को लेकर भरमौर के ही एक प्रबुद्ध जन रामप्रसाद ने प्रशासन से सूचना के अधिकार अधिनियम 2005 के अंतर्गत सूचना मांगी थी।  लेकिन भरमौर प्रशासन ने याचिकाकर्ता को अधूरी आरटीआई दी। उस पर भी संतोष जनक जवाब नहीं दिया गया। जिसके चलते अब वह इस विषय को उपायुक्त सम्मुख रखकर इसकी विजिलेंस जांच की भी मांग करेंगे। 

गौरतलब है कि हेली टैक्सी सेवा को लेकर रामप्रसाद ने भरमौर प्रशासन से हेली कंपनियों के साथ किए गए समझौते व कीमतों को लेकर सूचना के अधिकार के तहत सूचना मांगी थी।  जिन्हें उनका हर बार आधा- अधूरा जवाब ही दिया गया।  इस खबर को "हिमाचल जनादेश" ने प्रमुखता से उठाया था। 

एक नजर इधर भी-काँगड़ा : 5.80 ग्राम चिट्टा सहित महिला गिरफ्तार,पुलिस ने दर्ज किया गैर इरादतन हत्या का मामला

अब इस मुद्दे को अपने हाथ लेते हुए पूर्व वन मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी ने कहा कि वर्तमान सरकार के पूरे होने जा रहे 2 वर्षों में भरमौर के विधायक ने प्रशासन के साथ मिलकर खुद को और अपने सगे संबंधियों को फायदा पहुंचाने का ही काम किया है। जनता उनके नेतृत्व को पूरी तरह से नकार चुकी है। 


 उन्होंने बताया कि विधायक के साथ अब गिने-चुने लोग ही चलते हैं। भाजपा के कई वरिष्ठ व सक्रिय कार्यकर्ता विधायक से कन्नी काट चुके हैं। बावजूद इसके विधायक भरमौर में  विकास की डींगे हांकते हैं। जबकि सच्चाई यह है उनके शासनकाल में भरमौर की भोली भाली जनता पूरी तरह त्रस्त नजर आ रही है।

उन्होंने बताया कि उन्हें पूरा विश्वास है कि जिला प्रशासन हेलीटैक्सी सेवा में हुई धांधली की उच्च स्तरीय जाँच करवाकर भ्रष्टाचारियों को सजा देगा।  ताकि  भविष्य में भगवान शिव के नाम पर इस तरह का भ्रष्टाचार करने की कोई  सोच भी न सके।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.