मंडी:एक्ससर्विसमैन लीग के चुनावों को लेकर उपजा विवाद,जिला महासचिव ने उपायुक्त से उठाई चुनावों को रद्द करने की मांग

मंडी:एक्ससर्विसमैन लीग के चुनावों को लेकर उपजा विवाद,जिला महासचिव ने उपायुक्त से उठाई चुनावों को रद्द करने की मांग

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 20 Jul, 2019 08:04 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर मण्डी शिक्षा व करियर

हिमाचल जनादेश, मंडी(उमेश भारद्वाज)

 

प्रदेश एक्ससर्विमैन लीग जिला मंडी के चुनावों को लेकर विवाद हो गया है। विवाद के चलते जिला महासचिव बहादुर सिंह ने उपायुक्त से इन चुनावों को रद्द करने की मांग उठाई है।

उपायुक्त को सौंपी शिकायत में लीग के जिला महासचिव बहादुर सिंह ने कहा है कि पूर्व सैनिक लीग जिला मंडी का वार्षिक साधारण अधिवेशन व चुनाव17 जुलाई को सैनिक विश्राम गृह मंडी में निर्धारित किया गया था।

बैठक में जिला की सात तहसील सब यूनिटों कोटली, बल्ह, मंडी, सदर, पधर, सुंदरनगर, करसोग व चैलचौक  से सदस्यों ने हिस्सा लिया। साधारण अधिवेशन शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ। इसके उपरांत जिला की कार्यकारिणी गठित करने हेतु चुनाव प्रक्रिया शुरू की गई। इस प्रक्रिया में चैलचौक की जिला में सदस्यता न होने के कारण शामिल नहीं किया गया।

6 तहसीलों से उनकी ओर से चयनित दस दस डेलीगेटस शामिल किए गए थे जिनके नामों की सूची महासचिव को दी गई थी। चुनावों में खड़े होने के लिए निर्धारित प्रपत्र भरकर महासचिव को देना था। इस दौरान कोटली से कर्नल प्रताप सिंह ने अपना सदस्यता फार्म भेजा कि नाम शामिल कर लें तथा प्रपत्र बाद में दे दिया जाएगा। परंतु चुनाव प्रक्रिया शुरू होने तक प्रपत्र नहीं दिया गया।

अध्यक्ष पद के लिए केवल दो ही प्रपत्र महासचिव के पास आए जिनमें कर्नल एसएल तलवार तथा केडी शर्मा का नाम शामिल था। जबकि कर्नल प्रताप सिंह का नाम इस पद के लिए शामिल नहीं था। यह सूचना मिलते ही कोटली व बल्ह के डेलीगेटस उग्र हो गए और उन्होंन शोर मचाना शुरू कर दिया।

उनकी मांग पर कर्नल एमके मंडयाल को चुनाव अधिकारी तैनात किया गया। जिसके उपरांत उन्होंने नियमों के विपरीत जाकर चुनाव प्रक्रिया शुरू करवाई। इस दौरान बल्ह व कोटली के डेलीगेटस की ओर से धक्कामुक्की की गई और चुनाव अधिकारी की ओर से बल्ह व कोटली का पक्ष लेकर विरोध के बावजूद चुनाव जारी रखा। जिसके उपरांत अन्य तहसीलों के डेलीगेटस ने चुनावो का बहिष्कार किया।

चुनाव अधिकारी की ओर से बल्ह, कोटली व चैलचौक से आए करीब 2 दर्जन पूर्व सैनिकों की उपस्थिति में आधी अधूरी कार्यकारिणी का गठन करवाया दिया। उन्होंने उपायुक्त से इन चुनावो को अवैध घोषित इन्हे रद्द करने की मांग उठाई है।

 

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.