नौ सैक्टरों में विभाजित होगा मेला क्षेत्र ,प्रत्येक सैक्टर में सैक्टर मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे

नौ सैक्टरों में विभाजित होगा मेला क्षेत्र ,प्रत्येक सैक्टर में सैक्टर मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 11 Sep, 2017 10:19 am प्रादेशिक समाचार ताज़ा खबर स्लाइडर बिलासपुर

हिमाचल जनादेश,बिलासपुर 

उत्तर भारत के प्रसिद्ध शक्ति पीठ श्री नैनादेवी जी में 21 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2017 तक आयोजित होने वाले आश्विन मेले के प्रबंधों को लेकर आज उपायुक्त एवं आयुक्त मंदिर न्यास श्री नैना देवी जी ऋग्वेद ठाकुर की अध्यक्षता में बचत भवन में बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें मन्दिर अधिकारी के साथ-साथ सभी विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया । बैठक में उपायुक्त ने कहा कि श्रावण अष्टिमी मेले की तरह आश्विन मेलों के दौरान भी सभी अधिकारी कर्तव्य निष्ठा व तालमेल के साथ अपनी डयूटी निर्वहन कर मेले को सफल बनाने में अपना सहयोग दें। उन्होंने कहा कि आश्विन मेलों के दौरान उपमंडल अधिकारी (नागरिक) स्वारघाट को मेला अधिकारी तथा डीएसपी श्री नैना देवी जी को पुलिस मेला अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसी प्रकार मंदिर अधिकारी सहायक मेला अधिकारी तथा थाना प्रभारी थाना कोट कहलूर पुलिस सहायक मेला अधिकारी के रूप में कार्य करेंगे। उन्होंने कहा मेले के दौरान मेला क्षेत्र को नौ सैक्टरों में विभाजित
किया जाएगा तथा प्रत्येक सैक्टर में सैक्टर मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे। उन्होंने डीएसपी श्री नैनादेवी को मेले के दौरान कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए पूरा मेला क्षेत्र में पर्याप्त पुलिस वल, होम गार्डज तथा पंजाब के सेवा दलों की सेवाएं लेने के निर्देश दिए ताकि श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की असुविधा न हो। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान यातायात को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त स्टाफ न्युक्त किया जाएगा और ट्रक, ट्रैक्टर, टेंपो आदि सवारी लेकर श्री नैना देवी जी में नहीं आने दिए जाएंगे तथा उन्हें टोबा में ही रोक दिया जाएगा। इसके अतिरिक्त कार्यकारी नगर परिषद को निर्देश दिए गए कि मेले के दौरान नगर परिषद तथा निजी पार्किंगों में रेट लिस्ट लगाना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए ि कवे मेले के दौरान डयूटी पर तैनात कर्मचारियों की लिस्ट शीघ्र मंदिर अधिकारी के कार्यालय में उपलब्ध करवाएं ताकि ऐसे कर्मचारियों के ठहरने की व्यवस्था की जा सके।
उपायुक्त ने खाद्य एवं आपूर्ति विभाग व जिला सहकारी संघ को मेले के दौरान खाद्य वस्तुओं का पूर्ण भंडारण सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए।इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए कि वे भी मेले के दौरान पांच स्वास्थ्य सहायता कक्षों की स्थापना कर उनमें समुचित दवाईयों का भंडारण व चिकित्सक, फार्मासिस्ट की तैनाती को सुनिश्चित बनाएं। इसी प्रकार नगर परिषद मेले के दौरान सफाई व्यवस्था को सुनिश्चित बनाऐं तथा मेला से पूर्व पूरे मेला क्षेत्र की सफाई करना सुनिश्चित करेगी। उपायुक्त ने मेले के दौरान पेयजल व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिए आईपीएच विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए तथा टोबा तालाब में पुराने पानी की निकासी तथा उसमें ताजा जल भराव करने के लिए आईपीएच विभाग के अधिकारियों को पंचायत प्रधान टोबा से मिलकर कार्यवाही करने को कहा गया । उपायुक्त ने मंदिर अधिकारी को निर्देश दिए कि वह मेले में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए बस सटैंड तथा अन्य स्थानों पर जूता तथा सामान घरों तथा पंजीकरण काऊंटरों की स्थापना करने के साथ-साथ मंदिर न्यास की ओर से पर्याप्त स्टाफ की तैनाती को सुनिश्चित बनाएं। इसके अतिरिक्त महत्वपूर्ण स्थानों पर हिंदी तथा पंजाबी भाषा में साईनेज लगाएं जाएं ताकि श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान मिंदर के अंदर केवल सूखा प्रसाद ही चढ़ाया जाएगा तथा नारियल और हलवा चढ़ाने व बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। इसके अतिरिक्त माईक, ढोल, नगाड़ों तथा दुकानदारों द्वारा सीडी कैसेट बजाने पर भी पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। उन्होंने सेक्टर तथा पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे मेले के दौरान भीखारियों को कौलावाला टोबा से ऊपर न आने दें, ताकि श्रद्धालुओं को परेशानी न हो।  आग से बचाव हेतू गृह रक्षा
विभाग के अधिकारियों को मेला से पूर्व मेला क्षेत्र में दुकानों तथा अन्य स्थानों पर स्थापित समस्त अग्निशमन यंत्रों का निरीक्षण करने तथा मेला के दौरान एक फायर टैंडर श्री नैना देवी जी में रखने के निर्देश दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक अंजुम आरा, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी विनय कुमार, एसडीएम स्वारघाट चेत सिंह, डीएसपी स्वारघाट, मंदिर अधिकारी मदन चंदेल, अध्यक्ष नगर परिषद नैनादेवी मनीष शर्मा, जिला भाषा अधिकारी नीलम चन्देल, आरएम एचआरटीसी पवन कुमार, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा0 ऋषि टंडण,  प्रधान ग्राम पंचायत टोबा रामदास, कार्यकारी अधि्ेकारी नगर परिषद श्री नैना देवी जी के अतिरिक्त लोक निर्माण, आईपीएच, खाद्य तथा विधुत विभाग के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

 

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.