चुराह: कई पंचायतें महीनों से गैस सप्लाई सुविधा से महफूज़, लोग कर सकते हैं चुनाव का बहिष्कार

चुराह: कई पंचायतें महीनों से गैस सप्लाई सुविधा से महफूज़, लोग कर सकते हैं चुनाव का बहिष्कार

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 15 May, 2019 10:08 pm प्रादेशिक समाचार राजनीतिक-हलचल लाइफस्टाइल ताज़ा खबर स्लाइडर चम्बा आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश, चुराह(जावेद)

चुराह की देवकोठी, टेपा,गुलेई पंचायतों में नही पहुचती है गैस की सप्लाई ग्रामीणों में काफी रोष है ओर यहाँ तक इन लोगो ने चुनावो का वहिष्कार तक करने का निर्णय ले लिया है।

विधानसभा क्षेत्र चुराह के तहत आती तीन पंचायतों में घरेलू गैस सिलिंडरों की गाड़ी नहीं पहुंच रही है। इससे क्षेत्र के करीब 300 उपभोक्ताओं को परेशानी झेलनी पड़ रही है। आलम यह है कि तीन पंचायतों के उपभोक्ताओं के मुताबिक उनके परिक्षेत्र में तो कभी रसोई गैस की गाड़ी आज तक पहुंची ही नहीं हैं।

इसके अन्य पंचायतो में बीते दिनों होने वाली बर्फबारी और बारिश के बाद रसोई गैस की गाड़ी नहीं पहुंच पाई है। रसोई गैस की गाड़ी के क्षेत्र में न पहुंच पाने की सूरत स्कूलों ,आंगनवाड़ियों, व गृहणियों को मजबूरन दो सौ रुपये अतिरिक्त किराया चुका कर गेस सिलेंडर लेने तीसा पहुचना पड़ रहा है जिसके चलते इनको मजबूर हो कर चूल्हे पर ही खाना पकाना पड़ रहा है।

गौरतलब हो कि ग्राम पंचायत देवीकोठी, टेपा और गुलेई भर परिक्षेत्र के अधीन आने वाले 300 रसोई गैस उपभोक्ताओं को घरेलू गैस सिलिंडर घर-द्वार नहीं मिल पा रहे हैं। घरेलू गैस सिलिंडर लाने के लिए उन्हें खाली सिलिंडर पीठ पर लाद कर मीलों पैदल सफर तयकर तीसा स्टोर में जाकर ही घरेलू गैस सिलिंडर लाने पड़ रहे हैं।

इसके अलावा मंगली,और बिन्देडी पंचायतों में घरेलू गैस की सप्लाई बर्फबारी और बारिश के बाद नहीं पहुंच पा रही हैं। रसोई गैस सिलिंडर लाने के लिए उपभोक्ताओं को प्रति सिलिंडर की दर से 200 रुपये निजी वाहन चालकों को अदा करवाने पड़ रहे हैं। निजी वाहन चालक दो सौ रुपये सिलिंडर लाने ले जाने का किराया लेने के बाद ही उन्हें घरेलू गैस की सप्लाई पहुंचा रहे हैं।

वहीं इन पंचायतों में रसोई गैस की गाड़ी न पहुंचने की सूरत में लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। रसोई गैस उपभोक्ता मनोज कुमार, अशोक कुमार, कर्म सिंह, भूपेंद्र, बुद्धि प्रकाश, ठाकुर सिंह और केवल कुमार का कहना है कि क्षेत्र में रसोई गैस की सप्लाई नहीं होने से रसोई गैस उपभोक्ताओं को अतिरिक्त पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं।

उपभोक्ताओं की मानें तो कहने को तो उन्होंने रसोई गैस ले ली हैं। लेकिन, सिलिंडरों के ही समयानुसार नहीं मिलने से उन्हें एक बार फिर से लकड़ी एकत्रित कर चूल्हे जलाने पड़ रहे हैं।

पंचायत प्रधान उषा बताया कि उक्त पंचायतों में अगर घरेलू गैस सिलिंडरों को लेकर इस प्रकार की समस्या चली हुई है ओर हमने कई बार इस समस्या से अवगत भी करवाया लेकिन ये समस्या अभी तक हल नही हुई।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.