बिजली बोर्ड बिजली बहाली के काम की गति को और तेज करे- उपायुक्त

बिजली बोर्ड बिजली बहाली के काम की गति को और तेज करे- उपायुक्त

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 11 Feb, 2019 04:47 am प्रादेशिक समाचार देश और दुनिया ताज़ा खबर स्लाइडर चम्बा आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश, चंबा (ब्यूरो)  
 

उपायुक्त हरिकेश मीणा ने बिजली बोर्ड को हिदायत देते हुए कहा कि जिले में बिजली बहाली के काम की गति को और तेज किया जाए। उन्होंने कहा कि बिजली बोर्ड को इसके लिए पंचायत स्तर पर कार्य योजना तैयार करने की जरूरत है। 

उपायुक्त नए ये बात आज मंडे मीटिंग के दौरान जिले में बिजली,  सड़क और पेयजल की सेवाओं को बहाल करने की दिशा में हो रही प्रगति की समीक्षा करने के बाद कही।  उन्होंने कहा कि आने वाले समय में वार्षिक परीक्षाएं भी आने वाली हैं  ऐसे में बोर्ड उसी के मद्देनजर कदम उठाए।    

उपायुक्त ने बोर्ड के अधीक्षण अभियंता को कहा कि बिजली बोर्ड संबंधित एसडीएम और बीडीओ के साथ समन्वय बनाकर बिजली बहाली के काम को युद्ध स्तर पर पूरा करने की दिशा में कार्य करें। 

उन्होंने बताया कि एसडीएम और बीडीओ को पहले से ही निर्देश दिए जा चुके हैं कि वे संबंधित पंचायत प्रतिनिधियों को बिजली बहाली के काम में बिजली बोर्ड के फील्ड कर्मियों की मदद के लिए सक्रिय करें। 

उन्होंने ये भी कहा कि आपदा प्रबंधन की गर्ज से बिजली बोर्ड और लोक निर्माण के एसडीओ को वायरलेस नेटवर्क के साथ जोड़ने की भी जरूरत है ताकि जिला आपदा प्रबंधन केंद्र को त्वरित रिपोर्ट प्राप्त होती रहे। उपायुक्त ने कहा कि सभी राजस्व अधिकारी अपने कार्य क्षेत्र में हुए नुकसान की रिपोर्ट देने में पूरी गंभीरता बरतें।  

बैठक के दौरान उपायुक्त ने जिले में विभिन्न जगहों पर मोबाइल चार्जिंग के लिए मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट स्थापित करने को लेकर भी कार्य योजना तैयार करने के लिए कहा ताकि बिजली की उपलब्धता न होने के बावजूद कुछ जगहों पर मोबाइल चार्जिंग की सुविधा रहे और मोबाइल नेटवर्क के माध्यम से कम्युनिकेशन बना रहे। 

उन्होंने कहा कि इस तरह की परिस्थितियों के दौरान कम्युनिकेशन की उपलब्धता प्लानिंग के लिए भी मददगार रहती है।  

उपायुक्त ने बिजली बोर्ड , आईपीएच,  लोक निर्माण,  वन,  बागवानी और कृषि विभागों  को अपने अपने विभाग से संबंधित नुकसान का आकलन तुरंत पूरा करके उसकी रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेजने के निर्देश दिए। 

उन्होंने  कहा कि नुकसान की सूचना को अपडेट भी किया जाए । उपायुक्त ने शिक्षा और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को भी हिदायत दी कि जिले में स्कूल भवनों और आंगनबाड़ी केंद्रों को हुए नुकसान की रिपोर्ट तैयार करें।  

उपायुक्त ने वन विभाग को सड़कों और ट्रांसमिशन लाइनों के ऊपर गिरे पेड़ों को हटाने की दिशा में भी कदम उठाने के लिए कहा । बर्फबारी के चलते जाहिर तौर पर वनों को भी नुकसान पहुंचा है।

वन विभाग अपने फील्ड स्टाफ के माध्यम से वनों को हुए नुकसान की रिपोर्ट तैयार करके प्रस्तुत करे ताकि जिले की संकलित रिपोर्ट को राज्य सरकार को भेजा जा सके।  

उपायुक्त ने कहा कि जिले में बिजली,  पेयजल और सड़कों की बहाली के काम की प्रगति की समीक्षा को लेकर मंगलवार को भी बैठक की जाएगी। 
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त हेमराज बैरवा,  सहायक आयुक्त रम्या चौहान,  मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ युक्ति धर शर्मा,  एसडीएम दीप्ति मन्ढोत्रा,   जिला पर्यटन विकास अधिकारी रामप्रसाद शर्मा,  परियोजना अधिकारी डीआरडीए संजीव ठाकुर, बागवानी उपनिदेशक केएल शर्मा,  कृषि उपनिदेशक भोला सिंह,  क्षेत्रीय प्रबंधक परिवहन निगम सुभाष कुमार, जिला  अंकेक्षण अधिकारी महेश चंद ठाकुर,  जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास सत्यपाल वर्मा,  प्रबंधक जिला उद्योग केंद्र चंद्रभूषण,  पुलिस उपाधीक्षक अजय कुमार,  तहसीलदार पवन के अलावा अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.