4000 फिट की ऊंचाई पर टूट गया प्लेन का दरवाजा, जांच में जुटी DGCA की टीम....

4000 फिट की ऊंचाई पर टूट गया प्लेन का दरवाजा, जांच में जुटी DGCA की टीम....

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 11 Feb, 2019 03:11 am क्राईम/दुर्घटना देश और दुनिया ताज़ा खबर स्लाइडर

हिमाचल जनादेश ,नई दिल्ली (डेस्क )

 

डायरेक्टरेट ऑफ़ सिविल एविएशन यानि DGCA की टीम रविवार को पंतनगर - पिथौरागढ़ के बीच उड़ने वाले एयरक्राफ्ट की जांच की। बता दें कि शनिवार को इस एयरक्राफ्ट के उड़ते ही इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी थी। विमान के इस इमरजेंसी लैंडिग के पीछे यात्रियों ने आरोप लगया है कि बीच हवा में ही विमान का दरवाजा खुल गया था। जबकि पतंगनगर एयरपोर्ट के डायरेक्टर एस के सिंह ने कहा था कि विमान में कुछ दिक्कत थी इसलिए विमान की इमरजैंसी लैंडिंग करानी पड़ी थी।

एयरपोर्ट के डायरेक्टर ने कहा कि डीजीसीए की रिपोर्ट में गड़बड़ी के बारे में पता चल जाएगा। बता दें कि हेरीटेज एविएशन का यह प्लेन शनिवार को पंतनगर से पिथौरागढ़ के लिए उड़ान भरा था लेकिन बीच सफर में ही इसको वापस उसी एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी थी। जानकारी के मुताबिक इस प्लेन में कुल 8 यात्री और पायलट, को पायलट सवार थे। प्लेन में सवार यात्रियों का कहना है कि प्लेन के उड़ान भरने के 7 मिनट के भीतर ही दरवाजा टूट गया।

इन्हीं में से एक यात्री पंकज का कहना है कि उनका पूरा परिवार उस प्लेन में मौजूद था। उनके साथ उनकी पत्नी और छोटा बच्चा भी शामिल था। पंकज ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उड़ान भरने के करीब 7 मिनट के भीतर ही प्लेन में धमाके जैसी आवाज आई। लेकिन उसी वक्त प्लेन के अंदर का दरवाजा टूटकर प्लेन के भीतर आ गया, जबकि बाहरी दरवाजा हवा में लटक गया। लेकिन धमाके की आवाज के बाद सभी यात्रियों में दहशत फैल गई। वहीं दूसरे यात्री डॉ लोकेश बोरा ने बताया कि जिस वक्त प्लेन का दरवाजा टूटा उस वक्त वे करीब 4 हजार फिट की ऊंचाई पर थे।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.