लाहौल-स्पीति के लिए जून, 2019 तक आवश्यक सामग्री भेजी गई...

लाहौल-स्पीति के लिए जून, 2019 तक आवश्यक सामग्री भेजी गई...

संवाददाता (हिमाचल जनादेश) 07 Nov, 2018 11:20 am प्रादेशिक समाचार ताज़ा खबर स्लाइडर लाहौल और स्पीती आधी दुनिया

हिमाचल जनादेश, लाहौल स्पीति (ब्यूरो )

राज्य सरकार ने आगामी लगभग पांच महीनों तक भारी हिमपात के कारण शेष विश्व से कटे रहने वाले जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति के लोगों के लिए सभी प्रकार की आवश्यक सामग्री की आपूर्ति कर दी है।

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि जून, 2019 तक पर्याप्त राशनरसोई गैसपैट्रोलमिट्टी तेललकड़ी तथा अन्य आवश्यक सामग्री भेजी लाहौल-स्पिति को भेजी जा चुकी है ताकि सर्दियों में घाटी के लोगों को राशन व अन्य आवश्यक सामग्री की कमी न हो।

प्रवक्ता ने कहा कि खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने राशनईंधनरसोई गैसमिट्टी तेल आदि लाहौल-स्पीति तथा काजा के लोगों की आवश्यकता के अनुरूप भेज दिया है तथा जब तक सड़कें खुली हैंऔर अधिक सामग्री भेजी जाएगी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार घाटी के लोगों की आवश्यकताओं व समस्याओं के प्रति संवेदनशील है। इस वर्ष सितंबर माह में घाटी में हुए आसमयिक हिमपात तथा भारी वर्षा से फसलों तथा फलों को हुई भारी क्षति के दृष्टिगत सरकार ने अगले छः महीनों के लिए घाटी के सभी लोगों को बी.पी.एल. दरों पर राशन उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है। यही नहींराज्य सरकार इस जनजातीय जिले में चारे के परिवहन पर होने वाले व्यय का भी शत-प्रतिशत वहन स्वयं कर रही है।

प्रवक्ता ने कहा कि राज्य सरकार ने भारी वर्षा तथा बर्फबारी के कारण सेब की फसल को हुए नुकसान को देखते हुए घाटी के बागवानों से एचपीएमसी के माध्यम से 20 रुपये प्रति किलो की दर से फल खरीदा है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सितंबर में लाहौल घाटी में फंसे लोगों को निकालने क मामला तुरंत केन्द्र सरकार से उठाया जिसके कारण केन्द्र सरकार ने सात हेलीकॉप्टर उपलब्ध करवाए तथा सभी लोगों को वहां से सुरक्षित निकाला गया।

Comments

Leave a comment

What's on your mind regarding this news!

Your comment *

No comments yet. Be a first to comment on this.